राजस्थान में 3 चरणों में होगा पंचायत चुनाव जयपुर। निर्वाचन आयोग ने प्रदेश में पंचायत चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू कर दी गई है। इस बार जिला परिषद, पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव के लिए तीन चरणों में मतदान होगा। सात जनवरी को चुनाव की विधिवत अधिसूचना जारी की जाएगी। आज निर्वाचन आयोग की प्रेस वार्ता में बताया गया कि नामांकन की अंतिम तिथि 9 जनवरी रखी गई है। 11 जनवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी। तीन चरणों में 20, 29 जनवरी व 2 फरवरी को मतदान होगा। 8 फरवरी को मतगणना के बाद चुनाव परिणामों की घोषणा की जाएगी। प्रदेश में मतदाताओं की सुविधा के लिए 31 हजार 261 मतदान केन्द्र बनाए जाएंगे। इस दौरान नरेगा के काम यथावत चलते रहेंगे।

गुरुवार, 1 जुलाई 2010

सरकार पेयजल की आपूर्ति को लेकर संवेदनशील

रानीवाड़ा।
पंचायत समिति सभा भवन में साधारण सभा की बैठक प्रधान राधादेवी देवासी एवं विधायक रतन देवासी की देख-रेख में सम्पन्न हुई। बैठक में विधायक देवासी ने ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में बरती जा रही ढिलाई को लेकर लताड खिलाई। उन्होंने विभाग वार विकास कार्यों के बारे में जानकारी लेकर कमी बेशी को लेकर निर्देश दिए।
इस अवसर पर देवासी ने कहा कि राज्य सरकार पेयजल की आपूर्ति को लेकर संवेदनशील है। उन्होंने कोटड़ा में तैयार किए गए नलकूप की लाईन पर पचास से ज्यादा अवैध कनेक्शन को पुलिस के सहयोग से अतिशीघ्र हटाने के निर्देश दिए। साथ ही टैंकर के द्वारा जलापूर्ति से वंचित ढाणियों को नए सिरे से चिन्हित करने का कहा। इस कार्य के लिए उन्होंने समस्त ग्रामसेवक, सरपंच व पटवारियों को राजनीति नही कर आम जनता की भलाई के लिए प्रस्ताव बनाने की बात कही। देवासी ने समस्त ग्राम पंचायत कार्यालयों को विद्युतिकृत करने को लेकर विकास अधिकारी को निर्देशित किया। इस कार्य को प्राथमिकता से करने की बात कही। कस्बे में क्षतिग्रस्त विद्युत पौलों को भी तुरंत बदलने की बात कही, ताकि वर्षा ऋतु में संभावित दुर्घटना की आशंका न हो सके।
देवासी ने कहा कि कस्बे की सीएचसी में सस्ती जैनेरिक दवांईयों की उपलब्धता को लेकर शीघ्र ही दवाई की दूकान शुरू करवाई जा रही है। दूकान का निर्माण विधायक कोष से करवाया जाएगा। उन्होंने सेवाड़ा स्वास्थ्य केंद्र पर कार्यरत ए.एन.एम. की शिकायत को देखते हुए उसे वहां से हटाने के निर्देश दिए। देवासी ने एसएसए के बीआरसीएफ के तबादला हुए तीन माह बितने के उपरांत चार्ज हैंडऑवर नही करने पर नाराजगी जताते हुए तुरंत चार्ज लेने के लिए बीईईओं को निर्देशित किया।
उन्होंने कहा कि भीनमाल कृषि मंडी को राज्य सरकार ने इसबगोल की विशिष्ट मंडी घोषित किया है। मंडी को आधुनिक सुविधा सम्पन्न बनाने के लिए 3 करोड़ की कार्य योजना बनाकर भेजी गई है। कार्य योजना स्वीकृत होने पर रानीवाड़ा गौणमंडी का भी विकास हो सकेगा।
इस अवसर पर विकास अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा ने गत बैठक के दौरान दिए गए प्रस्तावों पर की गई कार्रवाई के बारे में सदन को बताया। जिला उपप्रमुख मूलाराम राणा ने विद्युत विभाग में डिमांड जमा करवाने के उपरांत सामान समय पर नही दिए जाने की शिकायत की। उन्होंने डूंगरी के झाबका में ढीले तार को कसने की मांग उठाई।
ग्रामसेवक मुकेशकुमार ने ग्राम पंचायत कार्यालय सूरजवाड़ा को विद्युतीकृत करने की मांग की, उन्होंने कहा कि समस्त ग्राम पंचायतों को राज्य सरकार ने कम्प्यूटर आवंटित किए है, परंतु विद्युत कनेक्शन नही होने के कारण कम्प्यूटर को संचालित करने में समस्याएं आ रही है।
विद्युत विभाग के सहायक अभियंता तरूण खत्री ने बताया कि विधायक रतन देवासी ने अपने कोष से चार लाख रूपए खर्च कर 22 विद्यालयों के उपर से गुजर रहे विद्युत तारों को हटवाने का सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि मारूवाड़ा व हर्षवाड़ा में नए 33केवी जीएसएस स्वीकृत हो चुके है। शेष कोटड़ा, दांतवाड़ा, आखराड़, डूंगरी व पांचला में नए जीएसएस के लिए राज्य सरकार को प्रस्ताव बनाने के स्वीकृति के लिए भिजवा दिए है।
बीईईओ तोलाराम राणा ने एमडीएम के तहत गैस कनेक्शन के लिए चार लाख चार हजार रूपए सरकार के द्वारा स्वीकृत कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही २८४ विद्यालयों में मीड डे मील के लिए गैस कनेक्शन करवा दिए जाएंगे।
ब्लॉक सीएमओं डॉ. एआर चौहान ने जननी प्रसूति योजना के तहत लाभांवित महिला को एकाउंट पे चैक देने में आ रही समस्याओं के बारे में जानकारी दी। एसएसए के आरपी भवंरसिंह राव ने सीटीएस सर्वें के बारे में जानकारी दी। राव ने कहा कि केजीबी का भवन तैयार हो चुका है। विद्यालय से डामर सड़क तक पांच सौ मीटर की दूरी तक ग्रेवल सड़क की जरूरत के बारे में उन्होंने सदन को अवगत करवाया। सीडीपीओ संतोष शर्मा ने स्वयं सहायता समूह के बारे में जानकारी दी। जसमूल डेयरी के प्रतिनिधि पूराराम चौधरी ने डेयरी के द्वारा पशुपालकों के हित में चलाई जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि रानीवाड़ा क्षैत्र में डेयरी के ६४ क्रियाशील पशु पोषण केंद्र संचालित हो रहे है। जिनके सदस्य रियायती दर पर पशु आहार खरीद सकते है।
वन विभाग के रेंजर नाहरसिंह ने नर्सरी योजना के तहत तैयार पौधों के बारे में जानकारी देकर प्रत्येक ग्राम पंचायत में 200 पौधें लगाने के मॉडल के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि हरित राजस्थान के तहत मुख्य सड़कों पर पौधें लगाने व रिंग पीट के चार कार्य स्वीकृत होने की बात कही।
समाज कल्याण अधिकारी एल.आर. भाटी ने विभिन्न योजनाओं के तहत २९५ पैंशन प्रकरण स्वीकृत कर अग्रीम कार्रवाई के लिए जालोर भेजने की बात कही। भीनमाल कृषि मंडी के सचिव हरीराम जोशी ने रानीवाड़ा गौण मंडी के विकास को लेकर बनाई गई योजना के बारे में सदस्यों को जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को भीनमाल में इसबगोल की मंडी को विकसित करने के लिए प्रोसेंसिंग प्लान्ट लगाने के लिए लिखा गया है। प्रवर्तन अधिकारी पुष्पराज पालीवाल ने राशन की दूकानों पर नई योजना के तहत वितरित हो रही सामग्री के बारे में विस्तृत से सदन को बताया।
इस अवसर पर प्रधान राधादेवी, उपप्रधान रावताराम, विकास अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा, कृषि मंडी के अध्यक्ष समरथाराम मेघवाल, पंचायत समिति सदस्य दीवालीदेवी काबा, जिला परिषद सदस्य ललिता बोहरा, चाटवाड़ा सरपंच गुमान कंवर ने भी अपने क्षेत्र की समस्याओं के बारे में सदन को जानकारी दी।
विधायक देवासी ने सभी समस्याओं को सुनकर संबंधित विभागों के अधिकारियों को तुरंत जनप्रतिनिधियों की समस्याओं का त्वरित समाधान करने के निर्देश दिए।
साधारण सभा में महिला जनप्रतिनिधियों के प्रतिनिधियों को प्रवेश नही करने से उनमें मायूसी देखी गई। कई जनों ने इसका विरोध भी किया, परंतु प्रधान राधादेवी ने प्रतिनिधियों को साधारण सभा की बैठक में भाग लेने के लिए मना कर दिया।
सभा की बैठक सभी महिला जनप्रतिनिधियों के चेहरे घूंघट के पीछे नजर आए। फिर भी कई महिला जनप्रतिनिधियों ने घूंघट के पीछे से ही अपने क्षेत्र की समस्याओं को सदन में प्रखरता से उठाकर समाधान कराने का निवेदन किया।

सोमवार, 21 दिसंबर 2009

रानीवाड़ा में कंटिजेन्शी प्लॉन के तहत सर्वाधिक राशिं - देवासी

रानीवाड़ा। विधानसभा क्षेत्र में विद्युत व पेयजल की समस्या के समाधान को लेकर सरकार अतिशीघ्र कई योजनाए शुरू कर रही है। जिले में सर्वाधिक नलकूप रानीवाड़ा क्षेत्र में स्वीकृत हुए है। विद्युत क्षेत्र में भी अगले वर्ष आधा दर्जन से ज्यादा जीएसएस स्वीकृत होने जा रहे है। यह बात स्थानीय विधायक रतन देवासी ने कागमाला, चितरोड़ी में नवनिर्मित भवनों के लोकार्पण समारोह में कही। कागमाला में सामुदायिक सभाभवन के लोकार्पण के अवसर पर उन्होंने कहा कि पानी व बिजली को लेकर कोई भेदभाव नही किया जाएगा। महिलाओं के आर्थिक व सामाजिक विकास को लेकर क्षेत्र में मुड्डा उद्योग को विकसित कर स्वयं सहायता समूह को मजबुत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रानीवाड़ा क्षेत्र में कंटिजेन्शी प्लॉन के तहत सर्वाधिक राशि स्वीकृत हुई है। इसी प्रकार कोड़ी में नवनिर्मित उप स्वास्थ्य केंद्र के लोकार्पण समारोह में उन्होंने कहा कि मिसिंग लिंक योजना के तहत चरपटिया, डाडोकी सहित कई गांवों को डामर सड़कों से जोडने के प्रस्ताव अतिशीघ्र स्वीकृत होने जा रहे है। उन्होंने कहा कि सुंधामाता, सिलेश्वर महादेव मंदिर सहित सौमेरी माता मंदिर को धार्मिक पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। सौमेरी माता मंदिर के पर्वत पर पेयजल टांके व सिढीयों का निर्माण करवाया जाएगा। देवासी के आज के कार्यक्रम में विकास अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा, ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी तौलाराम राणा, सहायक अभियंता जेठाराम वर्मा, डॉ. आत्माराम चौहान, सरपंच रायमल देवासी, पूर्व पंचायत समिति सदस्य भूताराम भील, ओखाराम भील, साक्षरता समन्वयक चमनाराम देवासी, वचनाराम दांतवाड़ा, अंबालाल चिताराम, रामनिवास यादव, जेईएन तेजपालसिंह, परसराम ढाका सहित कई लोगों ने भाग लिया।

फीते काटे, नारियल फोड़े

सांचौर। क्षेत्र की ग्राम पंचायत सुरावा, पांचला, नेनोल व दाता में शनिवार को विभिन्न भवनों का उद्घाटन रानीवाड़ा विधायक रतन देवासी के मुख्य आतिथ्य में हुआ। नेनोल में पंचायत भवन के उद्घाटन समारोह में देवासी ने कहा कि राज्य सरकार की जनहितैषी योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए।

उन्होंने उप स्वास्थ्य केन्द्र टिटोप, पंचायत भवन नेनोल, सामुदायिक सभाभवन रामदेव मंदिर नेनोल, उचित मूल्य दूकान भवन कांटोल, अतिरिक्त कक्षा कक्ष कांटोल, उप स्वास्थ्य केन्द्र मेड़ाजागीर, उप स्वास्थ्य केन्द्र दाता व बावलिया गांव में कक्षा कक्ष का फीता काटकर उद्घाटन किया। इस दौरान पूर्व प्रधान सुखराम विश्नोई और ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. शमशेर अली सहित कई कांग्रेस नेता मौजूद थे।

कक्षा-कक्षों का उद्घाटन : जसवंतपुरा। निकटवर्ती पावली गांव में विधायक रतन देवासी ने रविवार को सर्व शिक्षा अभियान के तहत राजकीय विद्यालय में निर्मित अतिरिक्त कक्षा कक्षों का उद्घाटन किया। वहीं उन्होंने चांदूर गांव में पट्टों का वितरण किया। पावली गांव में आयोजित समारोह में विधायक देवासी ने कहा कि राज्य की गहलोत सरकार ने अपने एक साल के शासनकाल के काफी विकास कार्य करवाएं है। इससे जनता का पार्टी के प्रति विश्वास बढ़ा है। उन्होंने राजकीय विद्यालय परिसर में नवनिर्मित दो कक्षा कक्षों का फीता काटकर उद्घाटन किया।

इस अवसर पर विकास अघिकारी डूंगरसिंह काबावत, जसवंतपुरा थानाघिकारी गोमदराम, पावली सरपंच रणछोडाराम, लच्छाराम देवासी, गणपतसिंह आदि उपस्थित रहे। इसी प्रकार विधायक देवासी ने चांदूर गांव में आयोजित एक समारोह के दौरान 91 पट्टों का वितरण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार आमजन को उनका हक दिलवाने का पूरा प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि विधानसभा, स्थानीय निकाय चुनाव के बाद पंचायतीराज चुनाव में भी पार्टी अपना परचम फहराएगी। इस अवसर पर ग्राम सचिव नटवरलाल जीनगर, सरपंच हॉकीदेवी रावल सहित काफी ग्रामीणजन उपस्थित थे।

रामसीन। निकटवर्ती तातेल व वाड़कागोेगा गांव में रविवार को कांगे्रस जिलाध्यक्ष डॉ. समरजीतसिंह व विधायक रामलाल मेघवाल के मुख्य आतिथ्य में नवनिर्मित सामुदायिक सभा भवन, आंगनवाड़ी केन्द्र व प्रसूति गृह का उद्घाटन हुआ। समारोह के विशिष्ठ अतिथि के नाते जालोर सहकारी भूमि विकास बैंक के अध्यक्ष बाघसिंह पूनंग व कांगे्रस के जिला उपाध्यक्ष ईशराराम विशनोई उपस्थित थे। इस मौके विधायक रामलाल मेघवाल ने पंचायतीराज चुनावों में कांगे्रस का साथ देने की अपील की। कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने सरकार की ओर से चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं से लोगों को लाभ उठाने की बात कही। कार्यक्रम में जिला परिषद सदस्य पांचाराम चौधरी व सरपंच चम्पा देवी ने गांव में कई समस्याओं के समाधान की मांग की। कार्यक्रम में सीकवाड़ा सरपंच भंवरसिंह, सोमता सरपंच माधाराम व श्यामलाल अग्रवाल सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व ग्रामीण मौजूद थे।

शुक्रवार, 18 दिसंबर 2009

पानी व बिजली में भेदभाव नहीं - देवासी


रानीवाड़ा। विधानसभा क्षेत्र में विद्युत व पेयजल की समस्या के समाधान को लेकर सरकार अतिशीघ्र कई योजनाए शुरू कर रही है। जिले में सर्वाधिक नलकूप रानीवाड़ा क्षेत्र में स्वीकृत हुए है। विद्युत क्षेत्र में भी अगले वर्ष आधा दर्जन से ज्यादा जीएसएस स्वीकृत होने जा रहे है। यह बात स्थानीय विधायक रतन देवासी ने गोलवाड़ा, जाखड़ी व जोड़वास में नवनिर्मित भवनों के लोकार्पण समारोह में कही। उन्होंने कहा कि ४९ ग्राम पंचायतों में पेंशन प्रकरण लंबे समय से लंबित होने के कारण लोगों को परेशानी देखनी पड़ रही थी। अब पेंशन का आवेदन करने के पन्द्रह दिनों के भीतर स्वीकृति दिलाने का प्रयास किया जा रहा है। इस कार्य को लेकर पंचायत समिति में अलग से पेंशन काउंटर का शुभारंभ किया जा चुका है। इस काउंटर पर सभी प्रकार की सामाजिक योजनाओं की जानकारी लोगों को मिल सकेगी। जाखड़ी में विश्रामगृह के लोकार्पण के अवसर पर उन्होंने कहा कि पानी व बिजली को लेकर कोई भेदभाव नही किया जाएगा। जाखड़ी में शीघ्र ही ऑवरहेड टेंक की स्वीकृति को लेकर प्रस्ताव राज्य सरकार को भिजवाया जाएगा। महिलाओं के आर्थिक व सामाजिक विकास को लेकर क्षेत्र में मुड्डा उद्योग को विकसित कर स्वयं सहायता समूह को मजबुत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रानीवाड़ा क्षेत्र में कंटिजेन्शी प्लॉन के तहत सर्वाधिक राशि स्वीकृत हुई है। अत: विपक्ष का यह आरोप गलत है। इस प्लॉन के तहत ३० नलकूप तैयार किए गए है। इसी प्रकार जोड़वास में हॉट बाजार व आंगनवाड़ी केंद्र के लोकार्पण समारोह में उन्होंने कहा कि मिसिंग लिंक योजना के तहत जोड़वास को जाखड़ी से जोडने व जाखड़ी से गुजरात सीमा तक डामर सड़क की मरम्मत के प्रस्ताव अतिशीघ्र स्वीकृत होने जा रहे है। इस अवसर पर उन्होंने नरेगा योजना के तहत १०० दिन पूरा करने वाली एकल महिलाओं को ओरणी व घाघरा का वितरण किया। देर शाम को देवासी ने पंचायत समिति सभा भवन में रानीवाड़ा कलां ग्राम पंचायत की तीन सौ महिलाओं को नरेगा योजना के तहत १०० दिन पूरे होने पर उन्हे ओरणी व घाघरा वितरित किया। इस अवसर पर महिलाओं की भारी उपस्थिति से सभा भवन में मेले जैसा माहौल दिख रहा था। देवासी के आज के कार्यक्रम में उपखंड अधिकारी कैलाशचंद्र शर्मा, विकास अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा, सहायक अभियंता जेठाराम वर्मा, रामनिवास यादव, हैमन्त वैष्णव, थानाप्रभारी करड़ा लक्ष्मणसिंह, जेईएन तेजपालसिंह, समाजसेवी परसराम ढाका, रूपाराम देवासी, निंबाराम मेघवाल, रहमानभाई मुसला, लालाराम सियाक, आसुराम खींचड, पूराराम चौधरी, सरपंच पूरण कंवर देवड़ा, सरपंच लखमाराम चौधरी, रीदाराम चौधरी, मांगाराम देवासी, मंगलाराम दर्जी, बाबुराम कोली, भंवरसिंह देवड़ा, छोटुसिंह देवड़ा, मदनसिंह देवड़ा, केराराम चौधरी, सहित कई लोगों ने भाग लिया।

पानी की समस्या को लेकर संवेदनशील-रतन देवासी


रानीवाड़ा। राज्य सरकार ग्रामीण क्षेत्र की पानी की समस्या को लेकर संवेदनशील है। शीघ्र ही इस समस्या के स्थाई समाधान को लेकर ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल योजनाएं शुरू होने जा रही है। इससे पूर्व पेयजल समस्या से प्रभावित क्षेत्रों में अभी से नलकूप खोदने शुरू हो गए है। जिलेे में सर्वाधिक नलकूप रानीवाड़ा क्षेत्र में स्वीकृत हुए है। यह बात स्थानीय विधायक रतन देवासी ने गोलवाड़ा, करड़ा व दांतवाड़ा में विभिन्न नलकूपों के उदï्घाटन अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों के कही। उन्होंने कहा कि सरकार के पास चार साल अभी शेष है। पंचायतीराज चुनावों के बाद विकास की गति को बढ़ावा दिया जाएगा। चुनाव के दौरान जनता के समक्ष किए गए वायदों को पुरा किया जाएगा। विधायक कोष की राशि गरीब जनता के विकास में सही समय पर खर्च की जाएगी। देवासी ने गोलवाड़ा गांव में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कहा कि गोलवाड़ा सहित पांच गांवों में पानी की समस्या का स्थाई समाधान आज हो गया है। इस योजना पर आठ लाख रूपए खर्च दो किलोमीटर लंबी पाईप लाईन डाली गई है। शीघ्र ही पाड़ावी व तावीदर में भी नलकूप स्वीकृत करवाए जाएंगे। करड़ा में आयोजित नलकूप लोकार्पण कार्यक्रम में कहा कि जीएलआर का आवंटन २५-३० ढांणियों के समूह में जलदाय विभाग की स्वीकृति के बाद पाईप लाईन के साथ किया जाएगा। जीएलआर बनने के बाद पेयजल की आपूर्ति सुचारू रूप से करने के लिए यह कार्य योजना बनाई गई है। दांतवाड़ा में सामुदायिक सभा भवन के लोकार्पण समारोह के दौरान आयोजित आम सभा में उन्होंने कहा कि दांतवाड़ा में पेयजल की समस्या लंबे समय से है। इस समस्या का भी स्थाई समाधान करने के लिए कार्य योजना बनाई जा रही है। सरकार महिलाओं के प्रति भी संवेदनशील है, क्योंकि पेयजल समस्या के दौरान सबसे ज्यादा परेशानी महिलाओं को उठानी पड़ती है। उन्होंने कहा कि डोरड़ा, दुगावा व नैनोल में ३३केवी विद्युत उपकेंद्र बनकर तैयार हो गए है। इसके अलावा पांच नए ३३केवी विद्युत उपकेंद्रों के लिए प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भिजवाए गए है। इस अवसर पर उपखंड अधिकारी कैलाशचंद्र शर्मा, विकास अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा, सहायक अभियंता जेठाराम वर्मा, रामनिवास यादव, हैमन्त वैष्णव, थानाप्रभारी करड़ा लक्ष्मणसिंह, जेईएन तेजपालसिंह, समाजसेवी परसराम ढाका, रूपाराम देवासी, निंबाराम मेघवाल, रहमानभाई मुसला, लालाराम सियाक, आसुराम खींचड, पूराराम चौधरी सहित कई लोगों ने भाग लिया।

रविवार, 13 दिसंबर 2009

आमजन को विकास की मुख्य धारा से जोड़ा जाएगा- चौधरी



रानीवाड़ा। राजस्थान के आमजन के विकास मुख्य धारा से जोड़ा जाएगा तथा राजस्थान सरकर संवदेनशील व जवाब देह शासन देने के लिए कृत सकंल्प है। उक्त विचार उपखंड मुख्यालय पर भारत निर्माण राजीव गांधी ई सेवा केंद्र के भवन के शिलान्यास समारोह के मुख्य अतिथि पद से राजस्वमंत्री हेमाराम चौधरी ने व्यक्त किए। जालोर के प्रभारीमंत्री चौधरी ने कहा कि विद्युत, पेयजल, सड़क निर्माण, जनचिकित्सा, शिक्षा, रोजगार, अकाल राहत आदि योजनाओं में कार्य सरकार द्वारा प्रारंभ किया गया है तथा आमजनता को राहत देने के प्रयास शुरू कर दिये हैं। चौधरी ने बताया विभिन्न समाजों को उनके समाज के भवन के लिए जगह अलॉट की गई है और भी समाज के लोगों को प्रस्ताव भीजवाना चाहिए। तुरंत कार्रवाई की जावेगी। समस्त प्रकार की समस्याओं का निराकरण समय रहते किया जाएगा तथा आवश्यकता पडऩे पर मुख्यमंत्री को भी अवगत करावाकर समस्याओं का निराकरण किया जाएगा। समारोह के अध्यक्ष स्थानीय विधायक रतन देवासी ने बताया कि रानीवाड़ा क्षेत्र में विधायक का अलग कार्यालय खोलकर जनता की समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है तथा विकास के प्रस्तावों की समीक्षा कर आगे स्वीकृति हेतु भेजे जाते है। कस्बे के अस्पताल में चिकित्सकों केे पदों को भरना, सभी उच्च प्राथमिक विद्यालयों में प्रधानाध्यापक लगाने, सड़के निर्माण, बिजली के ट्रांसफार्मर बदलने तथा कृषि के कनेक्शन जारी करने की जानकारी दी तथा विकास के लिए रानीवाड़ा में कोई कसर नही रहने का आश्वासन तथा सोंदर्यकरण करवाने तथा खेल मैदान का विकास करने व पेयजल के लिए हर संभव प्रयास करने की जानकारी दी गई। जिलाप्रमुख मंजु मेघवाल ने पंचायतिराज चुनाव संबंधि जानकारी, समरजीतसिंह पूर्व विधायक भीनमाल ने राजस्थान शासन के जनता के विकास के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी गई। विकास अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा ने भारत निर्माण ई विकास केंद्र के शिलान्यास संबंधि कार्य योजना की जानकारी दी गई। जिलाकलेक्टर के.के. गुप्ता ने आमजन के कार्य समय पर करने तथा समस्या समाधान का आश्वासन दिया। इससे पूर्व राजस्वमंत्री चौधरी ने विधायक रतन देवासी के साथ शब्जी मंडी में चार दिवारी निर्माण का शिलान्यास किया। पेंशन सेवा परामर्श केंद्र का उदघाटन किया तथा साक्षरता विभाग रानीवाड़ा द्वारा व्यवसायिक शिविरों में महिलाओं द्वारा तैयार सामग्री की प्रदर्शनी व स्टॉल का फीता काटकर उदघाटन किया और भारत निर्माण राजीव गांधी ई विकास केंद्र भवन का शिलान्यास किया। शिलान्यास से पूर्व जनप्रतिनिधियों प्रशासनिक अधिकारियों ने राजस्वमंत्री चौधरी, विधायक देवासी, जिलाप्रमुख मेघवाल, पूर्व विधायक डॉ. समरजीतसिंह, सांचोर पूर्वप्रधान सुखराम विश्रोई, भीनमाल नगरपालिकाध्यक्ष हीरालाल बोहरा, जिलाकलेक्टर गुप्ता का साफा बंधवाकर, माला पहनाकर व स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत व अभिनंदन किया। समारोह में उपजिला कलेक्टर केलाशचंद्र शर्मा, सहायक अभियंता जेठाराम वर्मा, अमृतलाल वर्मा, आरएन यादव, रमेशकुमार शर्मा, टी.पी.सिंह, उपजिलाप्रमुख हड़मतसिंह भोमिया, उपप्रधान प्रेमाराम चौधरी, रवाराम देवासी, गोदाराम देवासी, जीवाराम, राव सज्जनसिंह, अंबालाल चितारा, पारसमल जीनगर, रहमान खां, साक्षरता सहायक चमनाराम देवासी, डॉ.आत्माराम चौहान, गणेश देवासी, भाणाराम बोहरा, सरपंच लखमाराम चौधरी, आसुराम विश्रोई, मेदाराम चौधरी, राहुल वैष्णव, पूनमाराम मेघवाल सहित सैकड़ो की तादाद् में लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन साक्षरता खंड समन्वयक ताराचंद भारद्वाज ने किया।

सोमवार, 7 दिसंबर 2009

व्यवस्थाओं में होगा बदलाव-देवासी


रानीवाड़ा। क्षेत्र में पेंशन संबंधित समस्याओं का शीघ्र निस्तारण करने के लिए समिति कार्यालय में अलग से कक्ष की व्यवस्था की गई है। जिसका संचालन ग्रामसेवक संघ की ओर से किया जाएगा। इस व्यवस्था से क्षेत्र के लोगों को पेंशन संबंधित समस्याओं का निपटारा १५ दिवस में हो सकेगा। यह बात स्थानीय विधायक रतन देवासी ने पंचायत समिति की साधारण सभा में जनप्रतिनिधियों को कही। उन्होंने कहा कि सरकार को एक साल हो गया है। इस दौरान कई बार आचार संहिता लगने के कारण विकास के कार्य जितने होने चाहिए, उतने नही हो पाए है, परंतु फिर भी उन्होंने कई सड़कों के कार्य, सरकारी अस्पतालों में चिकित्सकों की नियुक्ति, मिडल स्कूलों में प्रधानाध्यापकों की शत् प्रतिशत नियुक्ति, जालेरा, मेड़ा, दुधवट, गोलवाड़ा व करड़ा की पेयजल समस्या का स्थाई समाधान, कस्बे के खेल मैदान को विकसित करने के लिए २७ लाख रूपये की स्वीकृति जारी करने जैसे कार्य करवाएं है। देवासी ने कहा कि पंचायतीराज चुनावों के आचार संहिता लगने की तैयारी है। नए कार्य फरवरी माह से शुरू करवाएं जाएंगे। महानरेगा योजना के वार्षिक प्लान २०१०-११ के अनुमोदन के लिए बुलाई गई इस साधारण सभा की बैठक में सभी ब्लॉक लेवल के अधिकारियों ने भाग लिया। उन्होंने जनप्रतिनिधियों के द्वारा बताई गई समस्याओं का निस्तारण किया। चिकित्सा विभाग के डॉ. रघुनाथ विश्रोई ने स्वाईन फ्लू की जानकारी देकर बचाव के उपाया बताए। उन्होंने बताया कि रानीवाड़ा कस्बे में आज मंगलवार से डोर टू डोर इस बीमारी का सर्वे शुरू करवाया जाएगा। क्षेत्र की ७० प्रतिशत सरकारी स्कूलों में स्क्रीनिंग टेस्ट कर लिया गया है। अभी तक क्षेत्र में इस बीमारी को डिटेक्ट नही किया गया है। विधायक रतन देवासी ने चिकित्सा अधिकारी को रानीवाड़ा कस्बे की सीएचसी में एक्सरे मशीन शीघ्र शुरू करने के निर्देश दिए। डॉ. विश्रोई ने बताया कि स्वाईन फ्लू के लिए सीएचसी में १२०० गोली विभाग ने उपलब्ध करवा दी है। जल संसाधन विभाग के सहायक अभियंता मेघराज डाभी ने नरेगा कार्यों की सदन को जानकारी प्रदान की। करवाड़ा सरपंच आसूराम विश्रोई ने करवाड़ा बांध की ऊंचाई बढाने, रोपसी डेलीगेट खेदाराम ने रोपसी बांध के पत्थरों की चोरी करने, जिला परिषद् सदस्य रवाराम देवासी ने सिंचाई संबंधित समस्याओं का तत्परता से निस्तारण करने की बात रखी। बीआरसीएफ तेजाराम विश्रोई ने सरकारी स्कूलों में शौचालय के लिए २०३ यूनिट की स्वीकृति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि लहर योजना के तहत कक्षा 1 व 2 के छात्र-छात्राओं की गुणवत्ता बढाने के लिए सामग्री व आओ पढे हम योजना के तहत कक्षा ३ से ५वीं तक के विद्यार्थियों के लिए सामग्री उपलब्ध करवा दी गई है। विश्रोई ने बताया कि करड़ा, मैत्रीवाड़ा व भाटीप की बालिका विद्यालयों में त्रै-मासिक सिलाई प्रशिक्षण शिविर शुरू किए गए है। जिसमें १२० बालिकाएं सिलाई कला सिख रही है। विकलांग विद्यार्थियों के मेडिकल चैक-अप के लिए आज मंगलवार को भीनमाल में शिविर का आयोजन रखा गया है। एसएसए के द्वारा गंभीर बीमारियों से ग्रसित बच्चों का ईलाज भी करवाया जा रहा है। क्षेत्र के पांच बच्चों का छात्रवृत्ति के लिए चयन किया गया है। जिन्हें १००० रू. की राशि विभाग के द्वारा प्रदान की गई है। विधायक देवासी ने एसएसए की गतिविधियों में जनप्रतिनिधियों का समावेश करने के निर्देश दिए है। समाज कल्याण लखमाराम भाटी ने बताया कि क्षेत्र में २२६ पालनहारों को प्रतिमाह ६७५ रू. पेंशन प्रदान की जा रही है। सरकार ने अभी बीपीएल परिवार की पुत्रियों की शादी के लिए पेकेज की घोषणा की है। इस दौरान करवाड़ा सरपंच ने शिकायत कर कहा कि पांच विधवा बालिकायों की शादी के लिए प्रोत्साहन राशि के लिए 3 साल पूर्व आवेदन किया गया था, परंतु अभी उक्त राशि स्वीकृत नही हुई है। विद्युत विभाग के सहायक अभियंता लालचंद खत्री ने बताया कि विभाग को इस वर्ष १३५ ढाणियों को विद्युतिकृत करने के निर्देश प्राप्त हुए थे, परंतु लक्ष्य के विपरित मात्र 9 ढाणियों को ही विद्युतिकृत किया गया है। शेष ढाणियों को भी शीघ्र इस सुविधा से जोडा जाएगा। उपप्रधान प्रेमाराम चौधरी ने डिस्काम के एफआरसी ठेकेदार पर रिश्वतखोरी का आरोप लगाकर किसानो से पैसा ऐंठने का आरोप लगाया। जिला परिषद् सदस्य रवाराम ने वाड़ोल गांव में घरेल विद्युत कनेक्शन का कार्य एक वर्ष से लंबित होने की शिकायत की। विधायक रतन देवासी ने रानीवाड़ा कस्बे में क्षतिग्रस्त विद्युत खंबों को तुरंत बदलवाने के निर्देश दिए। प्रवर्तन अधिकारी पुष्पराज पालीवाल ने बताया कि राज्य सरकार ने एपीएल परिवारों के लिए ११.६० रूपए प्रतिकिलों के भाव से गैहूं उपलब्ध करवा दिए है। इसके अलावा सामान्य वर्ग के उपभोक्ताओं के लिए १२.५० रूपए प्रतिकिग्रा के भाव से डिलर्स के माध्यम से गैहूं बाजार में उपलब्ध है। एक परिवार अधिकतम ५० किग्रा गैहूं खरीद सकता है। ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने पेपर स्कूलों व अनार्थिक स्कूलों को बंद करवाने के राज्य सरकार के निर्देशों की जानकारी दी। उन्होंने बीईईओं कार्यालय में रिक्त पदों को भरने का निवेदन किया। राज्य सरकार के निर्देशों के तहत १५ अप्रेल के बाद नियुक्त विद्यार्थीमित्रों को पुन: विद्यालयों में लगाने की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बीईईओं कार्यालय में स्वाईन फ्लू बीमारी की जानकारी लेने के लिए कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है। कंट्रोल रूम सुबह ८ से रात्री 10 बजे तक खुला रखा जा रहा है। जसमूल डेयरी के अधिकारी ने विधायक से पशुआहार पर अनुदान शुरू करवाने की बात कही। नायब तहसीलदार ने चारा डिपो के बारे में सदन को जानकारी प्रदान की। उपखंड अधिकारी कैलाशचंद्र शर्मा ने बताया कि चारा डिपो के लिए कोई भी स्वयंसेवी संस्था इच्छुक हो तो उसको प्राथमिकता से कार्य आंवटित किया जाएगा। उन्होंने स्वाईन फ्लू के बारे में सदन को जानकारी प्रदान की। साथ ही सरकारी स्कूलों में किचन शेड के निर्माण में एसडीएमसी के द्वारा बरती जा रही ढिलाई पर नाराजगी जताते हुए उक्त कार्य प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए। साधारण सभा में कई जनप्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं को प्रमुखता से उठाते हुए तुरंत समाधान कराने का निवेदन किया। जनप्रतिनिधि जिला उपप्रमुख हड़मतसिंह भोमिया, पुनमाराम मेघवाल, आसुराम मोखातरा, पीराराम देवासी, आसुराम देवासी, लखमाराम चौधरी, सोमाराम चौधरी, केराराम दहीपुर, कृपालसिंह देवड़ा, अमरसिंह देवल, किशनाराम चौधरी, घुनाराम भील सहित कई जनों ने भाग लिया।